Bollywood Movies

अगर अनुपम खेर बनते ‘मोगैंबो’ तो सोचिए कैसा होता मिस्टर इंडिया का विलेन?

अनुपम खेर को मिस्टर इंडिया में मोगैम्बो का रोल ऑफर किया गया था: सन 1987 में एम आर इंडिया (श्रीमान भारत)। फिल्म में पूरी तरह से अनौपचारिक (अनिल कपूर)। यह लंबे समय तक चलने वाला होगा। लेकिन सिर्फ ये फिल्म ही हिट नहीं हुई बल्कि इसके किरदार तो लोगों के जेहन में ही बस गए। दूल्हन इस्ज़िल फिल्म का विलो भी इस कदर लोगों के दिमाग पर शल्‍य कि आज तक पूरी तरह से अपूर्ण है। हम बात कर रहे हैं मिस्टर इंडिया के आधुनिक मौसम में अमरीश पुरी (अमरीश पुरी) ने। सभी काठी, अगर इस रोल को अमरीश पुरी (अमरीश पुरी) की उत्तम अनुपम खेर (अनुपम खेर) ने फिर भी क्या? वास्तविक, पहली अमरीश पुरी की विओ का रोल अनुपम खेर को ही ऑफ़र किया गया था।

अमरीश पुरी ने अद्वितीय खेर को रि
खुद के एक असाधारण में असामान्य खेर ने ये किस्म की पेशकश की थी। फिर भी एक बार फिर से पूरा किया गया. में ये रोल अमरीश पुरी को ऑफर किया गया था। अनुपमा रंग ने कहा कि यह फिल्म देखने के बाद भी ऐसा ही होगा। अमरीश पुरी दुनियां में I

1987 की सबसे अच्छी बढ़त
मिस्टर इंडिया 1987 की सबसे बड़ी सुंदरता में सुधार हुआ। मिडिया ट्वीट्स की माने तो 38 में इस मशीन ने 100 से अधिक की कमाई की थी। लंबी पैदल यात्रा के दौरान ही कामयाबी भी मिली।

ये भी आगेः जाह्नवी कपूर ने श्रीदेवी को “बुरी मां” कहा, माता-पिता के लिए सब कुछ है

.


Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button